Let My Country Wake up and Bloom

Just another weblog

54 Posts

168 comments

Reader Blogs are not moderated, Jagran is not responsible for the views, opinions and content posted by the readers.
blogid : 2740 postid : 657802

मेरा एक नया गीत "ऐसे जहाँ में जाएँ कहाँ" You Tube पर

Posted On: 30 Nov, 2013 Others,social issues,कविता,Video में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

मेरा एक नया गीत “ऐसे जहाँ में जाएँ कहाँ”

You Tube पर

समय बहुत तेजी से पंख लगा उड़ जाता है. हम सभी अपने अपने कार्यों में इतना व्यस्त होते हैं कि शायद गीत और संगीत के लिए समय निकाल पाना बहुत कठिन हो जाता है. पर इन्हीं व्यस्त लम्हों में से कुछ पलों को मैंने कुछ गीतों और कविताओं कि रचनाओं में लगा जो कुछ भी सृजित किया, वो अपने जागरण जंक्शन के मित्रों से बाटने का प्रयास कर रहा हूँ.
.
मुझे इस बात का अहसास है कि आप सभी की बहुत सी सुन्दर और अनेकों समयानुकूल रचनाओं पर मैं बहुत समय से अपने प्रतिक्रियाएं नहीं लिख पाया हूँ जिसके लिए अगर हो सके तो आप सभी शायद मेरे अन्य प्रयासों और कुछ समस्याओं के कारणों को देख कर छमा कर सकेंगे ऐसा मुझे विस्वास है.
.
You Tube पर प्रस्तुत मेरा ये गीत हिंदी फिल्मो में गीतों और संगीत के साथ दिन प्रतिदिन हो रहे हास्यप्रद से प्रस्तुतीकरण को देख कर कुछ ताज़े से गीत देनें का एक छोटा सा प्रयास है जिसमे मेरे अनगिनत जागरण के जाने और बहुत से अनजाने मित्रों का सहयोग मेरे लिए बहुत जरूरी है और शायद अधिकतर फ़िल्मी गीतों में संगीत के पतन को रोकने के लिए आप सभी के लिए भी कुछ जरूरी है, क्यों कि आज के बहुत से भद्दे गीतों का असर हम सभी के परिवार और विशेसरूप से नई पीढ़ी पर बहुत अधिक प्रभाव डाल रहा है.
.
आशा है आप सभी इस विषय पर अपने विचारों को एक बहुमत पर रख अधिकतर फिल्मों में Hollywood के अच्छे तो नहीं उसके बुरे प्रभाव को दर्शाती फिल्मों के भोंडे नाच गानों के ऊपर अपनी प्रतिक्रियाओं के साथ इस मेरे गीत को You Tube पर भी सुन कर अनुग्रहित करने का कस्ट करेंगे और अगर आप गीत के विषय पर अपनी प्रतिक्रिया You Tube पर दे सके तो अति उत्तम होगा.

गीत सुनने के लिए कृपया निम्न YOU TUBE के URL को कॉपी कर paste करें. अगर कॉपी कर पेस्ट करने में कोई कठिनाई हो तो कृपया किसीभी सर्च इंजन पर केवल Ravindra K Kapoor लिखें और You Tube के मेरे चैनल के पहले लिंक पर जाएँ और जहां वीडियोस लिखा है क्लिक करें जिसमे कि आप केवल मेरे Videos को देख सुन सकें.

.

……..http://www.youtube.com/watch?v=d3UVML72LNc

.

मेरा गीत ” ऐसे जहां में जाएँ कहाँ “

.

ऐसे जहां में, जाएँ कहाँ

समझे न कोई, हमें जहां

दिल ये जो है, वो सुनता नहीं

बहकता है लहरों सा, यहाँ वहाँ.

.

तुम भी तो आये, और चल दिये

कह भी न पाये, हम दिल कि जुबां

पुरे यहाँ, होते हैं कब

दिल में मचलते, उठते अरमां.

.

ऐसे जहां में, जाएँ कहाँ

समझे न कोई, हमें जहां

दिल ये जो है, वो सुनता नहीं

बहकता है लहरों सा, यहाँ वहाँ.

.

भूल जा ऐ, तू दिल मेरे,

क्यों कर रहा है, ये नादानियाँ

सुनता है कब, ये मतलबी जहां

कोई दर्द भरी

किसी की कोई, कहानियां .

.

ऐसे जहां में, जाएँ कहाँ

समझे न कोई, हमें जहां

दिल ये जो है, वो सुनता नहीं

बहकता है लहरों सा, यहाँ वहाँ.

.

ऐसे जहां में, जाएँ कहाँ
…….
….

रवीन्द्र के कपूर

कानपूर इंडिया ३० ११ २०१३.

.
YOU TUBE यूआरएल
…….http://www.youtube.com/watch?v=d3UVML72LNc



Tags:       

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (1 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

17 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

vikaskumar के द्वारा
January 23, 2014

मनोभावों की गीत के माध्यम से सुन्दर अभिव्यक्ति .

yogi sarswat के द्वारा
December 9, 2013

ऐसे जहां में, जाएँ कहाँ समझे न कोई, हमें जहां दिल ये जो है, वो सुनता नहीं बहकता है लहरों सा, यहाँ वहाँ. . ऐसे जहां में, जाएँ कहाँ बहुत ही सटीक और सुन्दर शब्द ! अभी यू टूबपर नहीं सुना है लेकिन अवश्य सुनूंगा !

    Ravindra K Kapoor के द्वारा
    December 9, 2013

    आभार और सुभकामनाओं के साथ. Ravindra K Kapoor

yamunapathak के द्वारा
December 6, 2013

गीत के शब्द बहुत सुन्दर हैं. साभार

    Ravindra K Kapoor के द्वारा
    December 6, 2013

    आपकी गीत सराहना के लिए यमुनाजी मैं आभारी हूँ, आशा है कि आपने मेरे इस गीत को You Tube पर भी सुना होगा अगर नहीं तो कृपया सुनियेगा. शेस आपके पेज पर. सुभकामनाओं के साथ..Ravindra K Kapoor

achyutamkeshvam के द्वारा
December 4, 2013

सुन्दर गीत .

    Ravindra K Kapoor के द्वारा
    December 6, 2013

    गीत को पसंद करने के लिए मैं आपका आभारी हूँ. आशा है आपने गीत को YouTube पर सुना भी होगा. शेस आपके पेज पर. सुभकामनाओं के साथ …Ravindra K Kapoor

December 4, 2013

आदरणीय, भूल जा ऐ, तू दिल मेरे, क्यों कर रहा है, ये नादानियाँ सुनता है कब, ये मतलबी जहां कोई दर्द भरी किसी की कोई, कहानियां…………..सुन्दर……………..आपका यह गीत सुनकर एक मेरा गीत याद आ गया…………….भाव कुछ यहीं……………..मगर उसमे दुनिया से कोई शिकायत नहीं किया हूँ,……………………खुबसूरत रचना के लिए हार्दिक आभार!

    Ravindra K Kapoor के द्वारा
    December 4, 2013

    अनिलजी आपने ठीक कहा इस गीत में एक मीठी सी शिकायत तो है पर ये उन भावों कि झलक भर है जो अक्सर इस दुनियां के मतलबीपन को देख कर अक्सर सभी के होठों पर आ जाती है. मैं आपकी इस सुन्दर प्रतिक्रिया के लिए आपका आभारी हूँ. अगर आपने अपना वो गीत कभी प्रकाशित किया हो तो जरूर उसे पढ़ना चाहूंगा. सुभकामनाओं के साथ …..Ravindra K Kapoor

December 4, 2013

बिलकुल सही कहा है आपने रविन्द्र जी .बहुत भावनात्मक अभिव्यक्ति .

    Ravindra K Kapoor के द्वारा
    December 4, 2013

    शालनीजी गीत कि सराहना के लिए मैं आपका आभारी हूँ. सुभकामनाओं के साथ ..Ravindra K Kapoor

Mann Ki Kawita के द्वारा
December 3, 2013

भूल जा ऐ, तू दिल मेरे, क्यों कर रहा है, ये नादानियाँ सुनता है कब, ये मतलबी जहां कोई दर्द भरी………………….bahut khub

    Ravindra K Kapoor के द्वारा
    December 4, 2013

    गीत को पसन्द करने के लिए मैं आभारी हूँ. सुभकामनाओं के साथ . Ravindra K Kapoor

Rajesh Kumar Srivastav के द्वारा
December 3, 2013

सुन्दर गीत//

Rajesh Kumar Srivastav के द्वारा
December 3, 2013

सुन्दर गीत /

    Ravindra K Kapoor के द्वारा
    December 4, 2013

    गीत को पसन्द करने के लिए मैं आभारी हूँ. शेष आपके पेज पर. सुभकामनाओं के साथ . Ravindra K Kapoor


topic of the week



latest from jagran